Mujhse Milne Aana ( Katha-Sangrah)

150

-7%

Writer : Ajai Chauhan |

Print Length : 104 Pages |

Language : Hindi |

Publisher : Ira Publishers, Kanpur |

Edition : Paper Back/First /2021 |

Dimensions : 21.5×14×1.0 cm |

ISBN-10 : 8195289608 |

ISBN-13 : 978-8195289608 |

 

Product Description

उपभोग और बाजार की वर्तमान दुनिया में जहाँ सारी प्रश्नाकुलता और इच्छाओं का समाधान सिर्फ़ और सिर्फ़ धन पर जाकर होता है, तब पारिवारिक जिम्मेदारियों के बोझ तले दबे संजय की अचानक मृत्यु पर उसकी आत्मा द्वारा यमराज से परिवार के लिए यथावश्यक अर्थ की आकांक्षा ‘फिर नचिकेता’ जैसी कहानी को जन्म देती है। ‘लव बर्ड्स प्वाइंट’ तथा अन्य सभी कहानियाँ न सिर्फ अपने विषय और शिल्प में महत्वपूर्ण हैं,  वरन् आज की संवेदनशून्य व्यवस्था पर आघात करती हैं। लेखक का पहला संग्रह होने के बावजूद मानव मनोविज्ञान और संवेदना की दृष्टि से भी ये कहानियाँ उत्कृष्ट हैं।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Mujhse Milne Aana ( Katha-Sangrah)”

Your email address will not be published.